खानपान में बदलाव करके कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बचा जा सकता है

कैंसर का नाम सुनते है आदमी की रूह कांपने लगती है। लेकिन क्या आपको पता है कैंसर जैसी घातक बीमारी को बढ़ने में खानपान की अहम भूमिका होती है। ये बात हम स्वास्थ्य विशेषज्ञ कर रहे हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार कैंसर के एक तिहाई मामले खानपान की आदतों से जुड़े होते हैं। खानपान की सही आदतें अपनाकर कैंसर के कई मामलों को टाला जा सकता है। मुंबई के टाटा मेमोरियल अस्पताल के पूर्व कैंसर विशेषज्ञ एवं लीडिंग हैल्थ प्रोफेशनल ऑफ दी वल्र्ड 2013 से सम्मानित डॉ. विकास अग्रवाल के अनुसार खानपान में इन बातों का ध्यान रखकर आप कैंसर के खतरे को कम कर सकते हैं।

फाइबर व एंटीऑक्सीडेंट शरीर के इम्यून सिस्टम को मजबूत करते हैं और शरीर से विषैले पदार्थों को दूर करते हैं।

रोजाना अपने आहार में सब्जियों और फलों को शामिल करें। इनसे कई प्रकार के कैंसर का खतरा कम होता है जैसे आंतों का कैंसर, पेट का कैंसर और फेफड़े का कैंसर।

रोज सुबह दो कलियां लहसुन की बारीक काटकर खाएं। सुबह-शाम भोजन के साथ आधा प्याज जरूर लें। लहसुन और प्याज में तीस से ज्यादा एंटी कैंसर तत्व पाए जाते हैं।

दिन में दो या तीन बार गेंहू के जवारे का रस पीएं। रेशेदार भोजन, साबुत अनाज, दालें आदि नियमित रूप से खाएं।
नारियल पानी पीएं। इसमें कोलेस्ट्रोल और वसा नहीं होती। यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है और शरीर में मौजूद वायरसों से भी हमारी रक्षा करता है।

वसा का प्रयोग कम से कम करें। दूध स्किम्ड लें। मांसाहार ना करें और जंकफूड जैसे पिज्जा, बर्गर, फ्रैंच फ्राइज आदि से दूर रहें।
अंकुरित अनाज लें। इनमें फाइटोकैमिकल्स भरपूर होते हैं और कैंसर रोधी गुण भी होते हैं।

शराब, सिगरेट, गुटका और तंबाकू आदि से दूर रहें।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए मल्टीविटामिन, मल्टीमिनरल दवा डॉक्टर की सलाह से ही लें।

रोजाना कम से कम 40 मिनट तेज चलने की आदत डालें। आप योगा, स्वीमिंग या एरोबिक्स भी कर सकते हैं।