108 Names of Lord Krishna in Hindi | भगवान कृष्ण के 108 नाम

भगवन श्री कृषण के बहुत से नाम हैं. उन्हें पूरी दुनिया में पूजा जाता हैं. लोग उन्हें भिन्न-भिन्न नामो से पुकारते हैं. आइये जानते हैं उनके 108 नमो के बारें में.

108 Names of Lord Krishna in Hindi

108 Names of Lord Krishna in Hindi

 108 Names of Lord Krishna in Hindi

अचलाभगवान
अनंतजितहमेशा विजयी होने वाले
सहस्रजितहजारों को जीतने वाले
सहस्राकाशहजार आंख वाले प्रभु
स्वर्गपतिस्वर्ग के राजा
वैकुंठनाथस्वर्ग के रहने वाले
रविलोचनसूर्य जिनका नेत्र है
कृष्णसांवले रंग वाले
श्यामसुंदरसांवले रंग में भी सुंदर दिखने वाले
निरंजनसर्वोत्तम
अनादिहसर्वप्रथम हैं जो
सुमेधसर्वज्ञानी
बलिसर्व शक्तिमान
सर्वेश्वरसमस्त देवों से ऊंचे
साक्षीसमस्त देवों के गवाह
परमात्मासभी प्राणियों के प्रभु
प्रजापतीसभी प्राणियों के नाथ
जयंतहसभी दुश्मनों को पराजित करने वाले
सुरेशमसभी जीव- जंतुओं के देव
वासुदेवसभी जगह विद्यमान रहने वाले
जनार्धनासभी को वरदान देने वाले
मोहनसभी को आकर्षित करने वाले
जगदिशासभी के रक्षक
सर्वपालकसभी का पालन करने वाले
ऋषिकेशसभी इंद्रियों के दाता
हिरंयगर्भासबसे शक्तिशाली प्रजापति
नारायनसबको शरण में लेने वाले
मनमोहनसबका मन मोह लेने वाले
दयानिधिसब पर दया करने वाले
सर्वजनसब- कुछ जानने वाले
सत्यवचनसत्य कहने वाले
सत्यव्तश्रेष्ठ व्यक्तित्व वाले देव
परमपुरुषश्रेष्ठ व्यक्तित्व वाले
शंतहशांत भाव वाले
दानवेंद्रोवरदान देने वाले
केशवलम्बे बालो वाला
सुदर्शनरूपवान
योगिनाम्पतियोगियों के स्वामी
यदवेंद्रायादव वंश के मुखिया
मुरलीमनोहरमुरली बजाकर मोहने वाले
मुरलीधरमुरली धारण करने वाले
मयूरमुकुट पर मोर- पंख धारण करने वाले भगवान
अव्युक्तामाणभ की तरह स्पष्ट
श्रेष्टमहान
मधुसूदनमधु- दानवों का वध करने वाले
विष्णुभगवान विष्णु के स्वरूप
बालगोपालभगवान कृष्ण का बाल रूप
विश्वरुपाब्रह्मांड- हित के लिए रूप धारण करने वाले
विश्वकर्माब्रह्मांड के निर्माता
जगद्गुरुब्रह्मांड के गुरु
जगन्नाथब्रह्मांड के ईश्वर
विश्वात्माब्रह्मांड की आत्मा
मुरलीबांसुरी बजाने वाले प्रभु
मनोहरबहुत ही सुंदर रूप रंग वाले प्रभु
मदनप्रेम के प्रतीक
योगिप्रमुख गुरु
हरिप्रकृति के देवता
विश्वमूर्तिपूरे ब्रह्मांड का रूप
परब्रह्मनपरम सत्य
पुंण्यनिर्मल व्यक्तित्व
विश्वदक्शिनहनिपुण और कुशल
नंद्गोपालनंद बाबा के पुत्र
धर्माध्यक्षधर्म के स्वामी
वृषपर्वधर्म के भगवान
द्वारकाधीशद्वारका के अधिपति
देवाधिदेवदेवों के देव
कमलनाथदेवी लक्ष्मी की प्रभु
लक्ष्मीकांतदेवी लक्ष्मी की प्रभु
अदित्यादेवी अदिति के पुत्र
आदिदेवदेवताओं के स्वामी
देवकीनंदनदेवकी के लाल (पुत्र)
त्रिविक्रमातीनों लोकों के विजेता
लोकाध्यक्षतीनों लोक के स्वामी
ज्ञानेश्वरज्ञान के भगवान
माधवज्ञान के भंडार
अजयाजीवन और मृत्यु के विजेता
अपराजीतजिन्हें हराया न जा सके
ज्योतिरादित्याजिनमें सूर्य की चमक है
निर्गुणजिनमें कोई अवगुण नहीं
सहस्रपातजिनके हजारों पैर हों
कमलनयनजिनके कमल के समान नेत्र हैं
कंजलोचनजिनके कमल के समान नेत्र हैं
पद्महस्ताजिनके कमल की तरह हाथ हैं
अजंमाजिनकी शक्ति असीम और अनंत हो
पद्मनाभजिनकी कमल के आकार की नाभि हो
श्यामजिनका रंग सांवला हो
अनयाजिनका कोई स्वामी न हो
वर्धमानहजिनका कोई आकार न हो
सनातनजिनका कभी अंत न हो
अनिरुध्दाजिनका अवरोध न किया जा सके
चतुर्भुजचार भुजाओं वाले प्रभु
गोपालग्वालों के साथ खेलने वाले
गोपालप्रियाग्वालों के प्रिय
गोविंदागाय, प्रकृति, भूमि को चाहने वाले
आनंद सागरकृपा करने वाले
दयालुकरुणा के भंडार
कामसांतककंस का वध करने वाले
पुर्शोत्तमउत्तम पुरुष
देवेशईश्वरों के भी ईश्वर
महेंद्रइन्द्र के स्वामी
उपेंद्रइन्द्र के भाई
अक्षराअविनाशी प्रभु
पार्थसार्थीअर्जुन के सारथी
अम्रुतअमृत जैसा स्वरूप वाले
श्रीकांतअद्भुत सौंदर्य के स्वामी
अद्भुतहअद्भुत प्रभु
अच्युतअचूक प्रभु, या जिसने कभी भूल ना की हो
अनंताअंतहीन देव